SSSSO Medical- Doctor Video Series- Part 9

1 Просмотры
Издатель
औषधि स्वयं से रोग नहीं मिटा सकती है इसके लिए ईश्वर का अनुग्रह भी आवश्यक है और ईश्वरीय अनुग्रह प्राप्त करने के लिए केवल त्याग की आवश्यकता होती है। ईश्वर के अनुग्रह के बिना हृदय की एक धड़कन भी संभव नहीं है। तुम्हारी यह धारणा गलत है कि, केवल औषधि ही रोग का निदान कर सकती है। औषधि के साथ - साथ ईश्वर की कृपा का होना भी आवश्यक होता है। औषधि और ईश्वरीय अनुग्रह एक प्रकार से ऋणात्मक और धनात्मक विद्युत तरंग की भांति हैं , रोग तभी ठीक होता है जब यह दोनों एकसाथ होते हैं । अतः औषधि लेने के साथ व्यक्ति को ईश्वर की कृपा प्राप्त करने के लिए भी प्रार्थना करनी चाहिए। ईश्वरीय कृपा के बिना मानव शरीर का कोई अस्तित्व नहीं है।
- श्री सत्य साई( एस. एस, २/२००१, पृष्ठ ५७, ५८)

Medicines on their own cannot cure diseases. It is divine grace that cures. Only sacrifice can win God's grace. Without God's grace, even the pulse cannot beat. You are under the mistaken notion that mere medicines can cure the diseases. So, along with medicines, one should have Divine Grace too. Medicine and Divine Grace are like negative (current) and positive (current) respectively. Diseases can be cured only when both these come together. So, along with taking medicines, one should also pray for Divine Grace. Without Divine Grace, human body can not be sustained.
- Sri Sathya Sai[SS, 2/2001, Pg. 57 and 58]

Introducing this #DoctorsVideos​ series for your good health!

The year 2020 has taught us to value our health as most important.

Watch this video as it wraps up some essential tips from doctors to remain in good health.
#HealthIsWealth​#SSSSOIndia​ #SSSYM​ #LoveAllServeAll​ #MessageOfLove​ #HelpEverHurtNever​

Show your support by following the social media handles
@SSSYMDelhiNCR
@SaiDelhiNCR

SSSYM Delhi-NCR
Sri Sathya Sai Seva Organisations, Delhi-NCR
Категория
Cмотреть новые клипы
Комментариев нет.